Dekha Ek Khwab
देखा एक ख़्वाब तो ये सिलसिले हुए
दूर तक निगाहों में हैं गुल खिले हुए
ये ग़िला है आप की निगाहों में
फूल भी हों दर्मियां तो फ़ासले हुए
देखा एक ...
मेरी साँसों में बसी ख़ुशबू तेरी
ये तेरे प्यार की है जादुगरी
तेरी आवाज़ है हवाओं में
प्यार का रँग है फ़िज़ाओं में
धड़कनों में तेरे गीत हैं खिले हुए
क्या कहूँ के शर्म से हैं लब सिले हुए
देखा एक ख़्वाब ...
मेरा दिल है तेरी पनाहों में
अब छुपा लूँ मैं तुझे बाहों में
तेरी तस्वीर है निगाहों में
दूर तक रोशनी है राहों में
कल अगर न रोशनी के काफ़िले हुए
प्यार के हज़ार दीप हैं जले हुए
देखा एक ख़्वाब ...
Dekha ek khwaab to yeh silsile huye
Door tak nigahon mein hain gul khile huye
Yeh gila hai aap ki nigahon mein
Phool bhi hon darmiyaan to fasle huye
Dekha ek ...
Meri saanson mein basi khushboo teri
Yeh tere pyar ki hai jadugari
Teri aawaaz hai havaon mein
Pyar ka rang hai fizaaon mein
Dhadhkano mein tere geet hain khile huye
Kya kahoon ke sharm se hain lab sile huye
Dekha ek khwaab ...
Mera dil hai teri panaahon mein
Ab chhupa loon main tujhe bahon mein
Teri tasveer hai nigahon mein
Door tak roshni hai raahon mein
Kali agar na roshni ke kaafile huye
Pyar ke hazaar deep hain jale huye
Dekha ek khwaab ...