Dil Mein Aag Lagaye
ओ मुझे तेरी चाहत के ग़म की क़सम 
ज़माने की हर एक क़सम की क़सम
मैं तेरे लिए हूँ तू मेरे लिए
सितमगर तेरे हर सितम की क़सम
दिल में आग लगाए सावन का महीना
नहीं जीना नहीं जीना तेरे बिन नहीं जीना
तूने मुझे जो ज़ख़्म दिए उन ज़ख़्मों को नहीं सीना
नहीं जीना ...
इस दिल से अरमान ये निकले एक ही घूँट में जान ये निकले
ज़हर जुदाई वाला घूँट-घूँट नहीं पीना
नहीं जीना ...
ये तेरी यादों का मौसम प्यार भरे वादों का मौसम
इस मौसम के बिछड़े शायद मिलें कभी ना 
नहीं जीना ...
इश्क़ इबादत इश्क़ है पूजा इश्क़ ख़ुदा का नाम है दूजा
ये दिल मथुरा काशी काबा और मदीना
नहीं जीना ...
O mujhe teri chahat ke gham ki kasam 
Zamane ki har ek kasam ki kasam
Main tere liye hoon tu mere liye
Sitamgar tere har sitam ki kasam
Dil mein aag lagaaye saawan ka mahina
Naheen jina naheen jina tere bin naheen jina
Tune mujhe jo jakhm diye un jakhmon ko naheen seena
Naheen jina ...
Is dil se armaan yeh nikle ek hee ghoont mein jaane yeh nikle
Zaher judai vaala ghoont-ghoont naheen pina
Naheen jina ...
Yeh teri yaadon ka mausam pyar bhare vaadon ka mausam
Is mausam ke bichhde shayad milein kabhie naa 
Naheen jina ...
Ishq ibaadat ishq hai pooja ishq khudai ka naam hai dooja
Yeh dil mathura kashi kaaba aur madeena
Naheen jina ...