Nadiya Se Dariya
		     
नदिया से दरिया, दरिया से सागर
सागर से गहरा जाम (२)
हो हो हो जाम में डूब गयी यारों मेरे, जीवन की हर शाम (२)
नदिया से दरिया ...
जो ना पिये वो क्या जाने, पीते है क्यों हम दीवाने यार अहा
जब से हमने पीना सीखा, जीना सीखा मरना सीखा यार अहा
ओ हम जब यूँ नशे में डगमगाने लग गये
हो हो हो दिल की बेचैनी को आया थोड़ा सा आराम
नदिया से दरिया ...
मेरा क्या मैं ग़म का मारा, नशे में आलम है सारा यार अहा
किसी को दौलत का नशा, कहीं मुहब्बत का नशा यार अहा
ओ कहकर ऐ शराबी सब पुकारें अब मुझे
हो हो हो और कोई था ये तो नहीं था पहले मेरा नाम
नदिया से दरिया ...



		     
Nadiya se dariya, dariya se sagar
Sagar se gahra jaam (2)
Ho ho ho jaam mein doob gayi yaaron mere, jeevan ki har shaam (2)
Nadiya se dariya ...
Jo naa piye voh kya jaane, peete hai kyon hum deewane yaar ahaa
Jab se humne pina seekha, jina seekha marna seekha yaar ahaa
O hum jab yoon nashe mein dagmagane lag gaye
Ho ho ho dil ki bechaini ko aaya thoda sa aaraam
Nadiya se dariya ...
Mera kya main gham ka maaraa, nashe mein aalam hai saara yaar ahaa
Kisi ko daulat ka nasha, kaheen mohabbat ka nasha yaar ahaa
O kahkar ae sharabi sab pukarein ab mujhe
Ho ho ho aur koi tha yeh to naheen tha pahle mera naam
Nadiya se dariya ...