O Mere Dil Ke Chain
ओ मेरे, दिल के चैन, 
चैन आए मेरे दिल को दुआ कीजिये
अपना ही साया देख के तुम जाने जहाँ शरमा गए
अभी तो ये पहली मंज़िल है, तुम तो अभी से घबरा गए
मेरा क्या होगा, सोचो तो जरा
हाय ऐसे ना आहें भरा कीजिये
ओ मेरे दिल के चैन ...
आपका अरमाँ आपका नाम, मेरा तराना और नहीं
इन झुकती पलको के सिवा, दिल का ठिकाना और नहीं
जंचता ही नहीं आँखों में कोई
दिल तुमको ही चाहे तो क्या कीजिये
ओ मेरे दिल के चैन ...
यूँ तो अकेला ही अक़सर, गिर के सम्भल सकता हूँ मैं
तुम जो पकड़ लो हाथ मेरा, दुनिया बदल सकता हूँ मैं
मांगा है तुम्हें दुनिया के लिये
अब ख़ुद ही सनम फ़ैसला कीजिये
ओ मेरे दिल के चैन ...
O mere, dil ke chain, 
Chain aaye mere dil ko dua kijiye
Apna hee saaya dekh ke tum jaane jahaan sharma gaye
Abhi to yeh pahli manzil hai, tum to abhi se ghabra gaye
Mera kya hoga, socho to zaraa
Hai aise naa aahein bharaa kijiye
O mere dil ke chain ...
Aapka armaan aapka naam, mera tarana aur naheen
In jhukti palko ke siwa, dil ka thikana aur naheen
Janchta hee naheen aankhon mein koi
Dil tumko hee chaahe to kya kijiye
O mere dil ke chain ...
Yoon to akela hee aksar, gir ke sambhal sakta hoon main
Tum jo pakad lo haath mera, duniya badal sakta hoon main
Maanga hai tumhein duniya ke liye
Ab khud hee sanam faisla kijiye
O mere dil ke chain ...