O Tera Naam Leke
ओ तू क्या जाने दिन-रात हम जीते हैं
ओ तेरा नाम ले के -२
ओ तेरी नज़रों के जाम हम पीते हैं
ओ तेरा नाम ...
तेरी ही बातें करते हैं हम सारी रात सितारों से
यह पूछ ले शोख़ नज़ारों से यह पूछ ले मस्त बहारों से
कि ज़िन्दगी के सुबह-शाम कैसे बीते हैं
ओ तेरा नाम ...
तेरी मासूम निगाहों ने बदली क़िस्मत दिलवालों की
जब से हमने दौलत पाई तेरे रंगीन ख़यालों की
हर हारी हुई बाज़ी हम जीते हैं
ओ तेरा नाम ...
हम तेरी याद में सोए नहीं जाने कितनी ही रातों से
ले बस हम अब चुप हो जाते हैं मत रूठो हमारी बातों से
न कहेंगे कुछ और लब सीते हैं
ओ तेरा नाम ...



                     
O tu kya jaane din-raaton hum jeete hain
O tera naam le ke -2
O teri nazron ke jaam hum peete hain
O tera naam ...
Teri hee baatein karte hain hum saari raaton sitaron se
Yeh poochh le shokh nazaron se yeh poochh le mast baharon se
Ki jindagi ke subah-shaam kaise beete hain
O tera naam ...
Teri masoom nigahon ne badli kismat dilwalon ki
Jab se humne daulat paee tere rangeen khayalon ki
Har haari hui baazi hum jeete hain
O tera naam ...
Hum teri yaadon mein soye naheen jaane kitni hee raaton se
Le bas hum ab chup ho jaate hain mat rootho hamaari baton se
Na kahenge kuchh aur lab seete hain
O tera naam ...